5 नहीं साढ़े 6 लाख रुपए तक नहीं लगेगा एक भी रुपए टैक्स, इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी छूट

5 नहीं साढ़े 6 लाख रुपए तक नहीं लगेगा एक भी रुपए टैक्स, इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी छूट

- in हिंदी
569
@Ajay Rana
पांच लाख रुपए कमाने पर जो आप 13 हजार रुपए टैक्स देते थे, वो अब जीरो (0) हो गया है.

आम कर दाताओं, या कम आय वाले लोग, जो कर के बोझ से दबे हुए थे, को इतिहास में पहली बार सबसे अधिक कर भत्ता दिया गया है। अगर आप एलआईसी, मेडिकल, पीएफ में निवेश करते हैं, तो आपको 6.50 लाख रुपये तक कोई टैक्स नहीं लगेगा। सीधे शब्दों में कहें, पहले पांच लाख रुपये में, जिसे आप 13 हजार रुपये का टैक्स देते थे, अब वह शून्य (0) हो गया है।

ऐसे समझें आपकी बचत

आय पहले टैक्स अब टैक्स
5 लाख 13,000 पूरी छूट
7.5 लाख 65,000 49,920
10 लाख 1.17 लाख 99,840
20 लाख 4.29 लाख 4.02 लाख

मोदी सरकार का ‘सिक्सर’

– हाउस डिडक्शन लिमिट की छूट 1 लाख से बढ़ाकर 2.5 कर दी गई है

– 40 हजार रुपये तक के ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।

– स्टैंडर्ड डिडक्शन 40 हजार से बढ़कर 50 हजार।

– 30 मिलियन से अधिक मध्यम वर्ग के लोगों को लाभ मिलेगा

– अगर आप निवेश करते हैं, तो साढ़े छह लाख तक कोई टैक्स नहीं लगेगा

टैक्स रिटर्न भरना आसान होगा

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि आयकर से जुड़ी सभी समस्याओं का समाधान ऑनलाइन किया जा रहा है। बिना किसी जांच के 99.54% आयकर रिटर्न को मंजूरी दी गई है। अब सभी आयकर रिटर्न 24 घंटे में संसाधित किए जाएंगे और रिफंड तुरंत दिया जाएगा। अगले दो वर्षों में आईटीआर का सत्यापन तुरंत ऑनलाइन होगा। इसमें कर अधिकारी की भूमिका नहीं होगी। आगे की जांच के लिए कार्यालय नहीं जाना पड़ेगा। कर अधिकारी कौन है और कर दाता कौन है, यह दोनों नहीं जान पाएंगे।

Facebook Comments

You may also like

Google Removed these 24 Dangerous Apps from the Play Store, Check & Delete it from your Mobile

New Delhi: The threat of smartphone users is once